राजनीति फ़ायदे के लिए सरकारी तंत्र का किया इस्तेमाल -पटवारी

राजनीति फ़ायदे के लिए सरकारी तंत्र का किया इस्तेमाल -पटवारी
Spread the love

इंदौर | सीएम कमलनाथ के करीबियों पर आयकर छापे के बाद प्रदेश की कांग्रेस सरकार पलटवार की तैयारी में है..लिहाजा E-टेंडरिंग,फर्जी बेबसाइट्स, एमसीयू और सांसद निधि खर्च मामले में FIR दर्ज करने की तैयारी में है..तो वही मंत्री जीतू पटवारी ने कहा हम राजनितिक द्वेष भावना से कोई करवाई नहीं करेंगे लेकिन दोषियों को बख्शेंगे भी नहीं
प्रदेश में सियासी छापो में पहली बार कांग्रेस-भाजपा में जबरजस्त टकराव देखने को मिल रहा है,हालही 281 करोड़ के ट्रांजेक्शन के खुलासे कर बाद कांग्रेस पूरी तरह तिलमिला चुकी है लिहाज़ा अब शिवराज सरकार में हुए घोटालों में अंतिम निष्कर्ष निकालने के लिए फाइलों की रफ़्तार में इजाफा KAR DIYA है ..खासकर E-टेंडरिंग, फर्जी बेबसाइट्स,एमसीयू और सांसद निधि खर्च मामले में अब सरकार ने तेजी दिखाना शुरू कर दिया है…आपको बता दे कि तत्कालीन प्रमुख सचिव मैप-IT मनीष रस्तोगी ने E टेंडरिंग घोटाला पकड़ा था जिसमे जल निगम के तीन हजार करोड़ के तीन टेंडर मनपसंद कंपनी को देने की बात सामने आई थी….
तो वही मंत्री तो वही आयकर विभाग की कार्रवाई को लेकर मंत्री जीतू पटवारी ने केंद्र की मोदी सरकार पर राजनीति फ़ायदे के लिए सरकारी तंत्र का इस्तेमाल किया जा रहा है…उन्होंने पीएम मोदी को पूर्व प्रधामनंत्री की बात का हवाला देते हुए उन्हें राजधर्म का पालन करने की सलाह दी है..तो वही को भाजपा के राज में घोटालों पर कार्रवाई की बात को लेकर कहा कि हम राजनीति द्वेष में कोई करवाई नही करेंगे लेकिन जो दोषी है उसे बख्शा नही जायेगा.
आपको बता दे कि बीते EOW ने CERT टीम को 13 हार्ड डिस्क भेजी थी..जिसमे से तीन में टेम्परिंग की पुष्टि हो चूकि है.. सूत्रों की माने तो यह जांच 3 हजार करोड़ से बढ़कर 80 हजार करोड़ के टेंडर तक चली गई है..वही अब कांग्रेस रिपोर्ट आने के बाद EOW FIR दर्ज करेगी.. बहरहाल राजनीति के इस दौर में कांग्रेस-भाजपा में जबरदस्त टकराव देखने को मिल रहा है जो कि आगामी दिनों में ओर बढ़ने के आसार है!

 

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED