इंदौर के दिल पर हैवानियत का कलंक, 24 घंटे के भीतर दो मासूमों की दुष्कर्म के बाद हत्या

इंदौर के दिल पर हैवानियत का कलंक, 24 घंटे के भीतर दो मासूमों की दुष्कर्म के बाद हत्या
Spread the love

इंदौर। जम्मू के कठुआ का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में एक और जघन्य अपराध सामने आया है. मध्यप्रदेश का सबसे बड़ा शहर इंदौर शुक्रवार के दिन उस समय कलंकित हो गया जब महज 24 घंटे के भीतर दो मासूम बच्चियों के साथ दरिंदगी कर उन्हें मौत के घाट उतार दिया गया. हैरान करने वाली बात यह है कि दोनों ही मामले में आरोपी पीड़ितों के करीबी लोग है. जिन्होंने मासूमों के साथ बेरहमी के साथ दुष्कर्म कर उनकी हत्या कर दी.

WhatsApp Image 2018-04-20 at 8.17.11 PM

पहली घटना राजबाड़ा क्षेत्र-

इंदौर का ह्रदय स्थल राजवाड़ा जिसे शहर का हाई सेक्युरिटी जॉन कहा जाता है. जहां अपने माता पिता के साथ सो रही पांच महीने की मासूम के साथ शुक्रवार के दिन दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी गई. बच्ची का शव घटनास्थल से करीब डेढ़ सौ मीटर दूर श्रीनाथ मार्केट (शिव विलास पैलेस के पास स्थित अपार्टमेंट) के बेसमेंट में अर्धनग्न हालत में मिला. उसके शरीर और कपड़ों पर खून के धब्बे थे. सीसीटीवी कैमरे के फुटेज से पता चला कि आरोपित बच्ची के पिता का ही दोस्त है. इस शर्मनाक घटना में पुलिस की लापरवाही भी देखने को मिली. सवाल यह उठता है कि राजवाड़ा पर रात ढाई बजे तक चाट-चौपाटी चलती है. रातभर पुलिस बल तैनात रहता है. राजवाड़ा के गेट के सामने पुलिस जीप रहती है. चौराहे पर ही पुलिस चौकी है। जहां बच्ची सो रही थी, वह स्थान पुलिस चौकी से दिखता है. इसके बावजूद बच्ची को आरोपित कैसे उठा ले गया? सराफा थाने के पुलिसकर्मियों की संवेदनहीनता और लापरवाही सामने आने पर डीआईजी हरिनारायणचारी मिश्र ने ड्यूटी टाइम पर तैनात एएसआई को निलंबित कर दिया. वही देर शाम आरोपी को गिरफ्तार कर लिया.

दूसरी वारदात एरोड्रम क्षेत्र-

दूसरी वारदात एरोड्रम क्षेत्र में हुई जहां मासूम के नजदीक के रिश्तेदार ने उसके साथ दुष्कर्म किया और उसके बाद 10 फीट ऊंचाई से फेंककर उसकी हत्या कर दी. पुलिस ने देर रात एरोड्रम क्षेत्र के आरोपित को गिरफ्तार कर लिया. पूछताछ में उसने बच्ची का अपहरण और दुष्कर्म करना कबूल कर लिया. वह बच्ची का नजदीक का रिश्तेदार है. वह उसकी दो बच्चियों पर गलत नजरें रखता था. इस कारण उसको उसकी पत्नी ने भगा दिया था. शराब के नशे में उसने बच्ची को उठाया और फिर मासूम के साथ दुष्कर्म कर हत्या कर दी. मामले में डीआईजी हरिनारायण चारी मिश्र ने कहा कि आरोपी नाइट्रावेट और शराब पीने का आदी है. मामले की शीघ्र जांच के लिए एसआईटी का गठन किया गया है. इसमें एसपी, एएसपी और सीएसपी स्तर के अधिकारी शामिल किए गए हैं. 15 दिन में जांच पूरी कर फास्ट ट्रैक कोर्ट में चालान पेश कर दिया जाएगा. आरोपित को सख्त से सख्त सजा दिलवाने का प्रयास किया जाएगा.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED