उज्जैन नगर निगम के अधिकारियों पर जांच की आंच !

Spread the love

गड़बड़ी करने वाले अधिकारियों को बख्शा नही जाएगा, ऐसे अधिकारियों पर तत्काल कार्रवाई की जाएगी, ये बात मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने उज्जैन नगर निगम द्वारा पार्श्वनाथ कॉलोनी को गलत तरीके से एनओसी देने के मामले में कही.

उज्जैन की पार्श्वनाथ सिटी के मामले में भ्रष्टाचार करने वाले नगर निगम के अधिकारियों पर जल्द ही गाज गिरने वाली हैं। जी हां पीडब्लू मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने स्पष्ट शब्दों में कहा है कि उज्जैन की पार्श्वनाथ सिटी में डेवलपमेंट कार्य नहीं होने के बाद भी नगर निगम द्वारा कॉलोनाइजर को गलत तरीके से पूर्णता काम का सर्टिफिकेट दे दिया गया है… दरअसल उज्जैन के पार्श्वनाथ सिटी के रहवासियों ने प्रभारी मंत्री से मुलाकात की।

उन्होंने कहा पार्श्वनाथ डेवलपर नईदिल्ली ने देवास रोड पर पार्श्वनाथ सिटी का विकास किया लेकिन विद्युत ग्रिड, पेयजल कनेक्शन, सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट जैसे काम नहीं किए। आरोप लगाया नगर निगम ने गलत तरीके से पूर्णता प्रमाण पत्र जारी कर दिया जबकि कॉलोनी में मूलभूत सुविधाओं का अभाव है। इसपर मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने जांच कर दोषियों को सख्त से सख्त सजा देने के निर्देश दे दिए ।

दरअसल बसंत पंचमी के पावन पर्व पर उज्जैन जिले के प्रभारी और केबिनेट लोक निर्माण एवं पर्यावरण मंत्री सज्जन सिंह वर्मा उज्जैन पहुंचे। यहाँ उन्होंने धार्मिक आयोजनों में भाग लिया एवं आला अधिकारियों के साथ बैठक आहूत की। कई सारे आवेदनों और शिकायतों पर गोर किया और उन्हें हल करने के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया।

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED