उमा ने बताया कैसे किया दिग्विजय सिंह का शिकार!

उमा ने बताया कैसे किया दिग्विजय सिंह का शिकार!
Spread the love

उज्जैन.  बीजेपी की फायरब्रांड नेत्री और पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने मध्य प्रदेश में इन दिनों चल रही टाइगर पॉलिटिक्स पर अपने ही अंदाज में प्रतिक्रिया दी है। मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में मंत्री रह चुकी उमा भारती ने टाइगर पॉलिटिक्स के बहाने अपने पूराने प्रतिद्वंदी पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह पर अपने चिर परिचित अंदाज में निशाना साधा है। सावन के पहले सोमवार को उज्जैन स्थित महाकालेश्वर मंदिर पहुंची उमा ने पत्रकारों के एक सवाल के जवाब में कहा कि वो जुमलेबाजी की राजनीति में विश्वास नहीं रखती हैं। रही बात टाइगर की तो उन्होंने 2003 में राघोगढ़ के शेर पर ऐसा ट्रैंक्वलाइजर चलाया, कि वो अभी तक बेसूध होकर पड़ा हुआ है।

उनका इशारा कांग्रेस के राज्यसभा सांसद और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह की ओर तरप था। यहां आपको बता दें 2003 के विधानसभा चुनाव में उमा भारती के नेतृत्व में ही बीजेपी ने एमपी में 10 सालों से जमे दिग्विजय सिंह की कांग्रेस सरकार को उखाड़ फेंका था। बीजेपी ने उस दौरान अब तक सबसे निर्णायक प्रदर्शन करते हुए विधानसभा चुनाव में 170 से अधिक सीटों पर जीत दर्ज की थी। उसे कड़वे हार के बाद ही दिग्विजय सिंह राज्य की सियासत से दूर हो गए और कांग्रेस करीब 15 वर्षों बाद किसी तरह कमलनाथ के नेतृत्व में सत्ता में आ पाई।

वो भी ज्यादा दिनों तक टिक नहीं सका। वहीं 2019 में लोकसभा चुनाव नहीं लड़ने का ऐलान कर चुकी उमा भारती ने अब पुनः सक्रिय राजनीति में वापसी की घोषणा कर दी है। उन्होंने 2024 का लोकसभा चुनाव लड़ने का ऐलान भी कर दिया है। ऐसे में माना जा रहा है कि वो फिर से केंद्र की सियासत के बहाने राज्य की राजनीति में पुनः सक्रिय होना चा रही हैँ।

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED