MP में BJP विधायकों को व्हिप जारी, मंत्री बोले- फ्लोर टेस्ट हुआ तो कांग्रेस में आएंगे कई विधायक !

MP में BJP विधायकों को व्हिप जारी, मंत्री बोले- फ्लोर टेस्ट हुआ तो कांग्रेस में आएंगे कई विधायक !
Spread the love

भोपाल : मध्य प्रदेश विधानसभा के शीतकालीन सत्र से पहले बीजेपी अपने विधायकों को लेकर अलर्ट हो गई है. सत्र शुरू होने से पहले ही बीजेपी ने अपने विधायकों के लिए व्हिप जारी किया है. व्हिप जारी होने के बाद अब सभी विधायकों को सत्र के दौरान विधानसभा में अनिवार्य रूप से मौजूद रहना होगा. व्हिप जारी करने के पीछे वजह बीजेपी के अतीत के सबक माने जा रहे हैं जो उसे बीते मॉनसून सत्र में मिले थे. दरअसल, विधानसभा का शीतकालीन सत्र 17 से 23 दिसंबर तक चलना है. मॉनसून सत्र में बीजेपी को उस वक्त सियासी तौर पर खामियाजा उठाना पड़ा था जब एक बिल पर वोटिंग के दौरान उसके दो विधायक नारायण त्रिपाठी और शरद कोल ने कांग्रेस के पाले में वोट कर दिया था.

बीजेपी ने उस दौरान व्हिप जारी नहीं किया था लिहाजा विधायकों पर कोई कार्रवाई नहीं हो सकी. हालांकि बाद में बदले सियासी घटनाक्रम में नारायण त्रिपाठी वापस बीजेपी में लौट आए और शरद कोल के सुर भी बदल गए हैं. ऐसे में अब व्हिप जारी करने पर कांग्रेस सवाल उठा रही है. वही मंत्री पीसी शर्मा का का दावा है कि फ्लोर टेस्ट की बात आई तो व्हिप जारी करने के बाद भी कई बीजेपी विधायक व्हिप तोड़कर कांग्रेस में आएंगे. हालाँकि शीतकालीन सत्र से पहले पवई विधायक प्रह्लाद लोधी की सदस्यता बहाल होने के बाद बीजेपी के खेमे में थोड़ी राहत ज़रूर है, लेकिन उससे ज्यादा सियासी गणित में कांग्रेस का पलड़ा कांतिलाल भूरिया की जीत के बाद भारी हो गया है.

2018 विधानसभा चुनाव के नतीजों के बाद 230 सीटों में से कांग्रेस को 114 और बीजेपी को 109 सीटें मिली थीं, लेकिन झाबुआ उपचुनाव के बाद कांग्रेस की सीटों की संख्या 115 हो गई है. वहीं, बीजेपी विधायकों की संख्या एक कम होकर, 108 रह गई है. बीजेपी सत्र के दौरान किसानों से लेकर यूरिया संकट और बेरोजगारी से लेकर बिजली बिलों तक पर सरकार को घेरने की तैयारी कर रही है. इसी सिलसिले में सत्र शुरू होने से पहले 16 दिसंबर को बीजेपी विधायक दल की बैठक भी बुलाई गई है.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED