उन्नाव की बेटी को लेकर योगी आदित्यनाथ ने दिया सीएम कमलनाथ को मुह तोड़ जवाब!

उन्नाव की बेटी को लेकर योगी आदित्यनाथ ने दिया सीएम कमलनाथ को मुह तोड़ जवाब!
Spread the love

भोपाल- CM कमलनाथ द्वारा UP के उन्नाव की दुष्कर्म पीड़िता के परिजनों को राज्य में बसने और पूरी सुरक्षा दिए जाने की अपील के बाद सियासत गर्मा गई है, अब सीएम योगी आदित्यनाथ ने सीएम कमलनाथ पर ट्वीट वॉर करते हुए कहा है की बेटियां बांटी नहीं जातीं..बेटियों को लेकर ओछी राजनीति न कीजिए.

उन्‍नाव रेप कांड का मामला एक बार फिर देश में गरमाया हुआ है. वही MP की सियासत में भी अब मामले ने तूल पकड़ लिया है. प्रदेश में इस मामले को लेकर बीजेपी-कांग्रेस में ट्वीट वॉर शुरू हो गया है. मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा उत्तर प्रदेश के उन्नाव की दुष्कर्म पीड़िता के परिजनों को राज्य में बसने और पूरी सुरक्षा दिए जाने की अपील के बाद सियासत गर्मा गई है. कमलनाथ के बयान के बाद बीजेपी हमलावर हो चली है. दरअसल मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने ट्वीट में कहा है कि कमलनाथ जी, बेटियां बांटी नहीं जातीं. राजनीति करिए लेकिन गरिमा और सुचिता बनाए रखिए, बेटियों को लेकर ओछी राजनीति न कीजिये, क्योंकि बेटियां बेटियां होती हैं. कम से कम तंदूरी कांग्रेस इस तरह का उपदेश न दे..!

कमलनाथ के बयान के बाद बीजेपी हमलावर हो चली है. बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने उल्टा कमलनाथ से ही सवाल किए है और पूछा है पहले बताएं एमपी में बेटियां कितनी सुरक्षित है? कमलनाथ दुष्कर्म पीड़िता को बेटी की तरह सुरक्षा का वादा कर रहे हैं, तो उन्हें यह बताना चाहिए कि क्या मध्यप्रदेश में दुष्कर्म/हत्या की शिकार हो रही बेटियों को वे अपनी बेटियां नहीं मानते ? या वे उन्नाव की दुष्कर्म पीड़िता को भी ऐसे ही असुरक्षित माहौल में बसने का आमंत्रण दे रहे हैं ?

वही इस मामले में जनसम्पर्क मंत्री पीसी शर्मा ने UP सरकार को जमकर आड़े हाथ लिया है. सीएम कमलनाथ के बाद अब मंत्री पीसी शर्मा ने पीड़िता को MP में बसने का ऑफर दिया है.

आपको बता दे की सीएम कमलनाथ ने शुक्रवार को ट्वीट कर उन्नाव दुष्कर्म मामले पर पीड़िता को मध्यप्रदेश में आकर बसने का आग्रह किया था. वहीं अब इस मामले में जमकर सियासत हो रही है. जबकि बीजेपी और कांग्रेस में ट्वीट वॉर शुरू हो गया है.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED