इंदौर में किसान सेना ने किया आईडीए का घेराव

इंदौर में किसान सेना ने किया आईडीए का घेराव
Spread the love

इंदौर : युवा किसान सेना ने गुरुवार दोपहर किसानों की समस्याओं को लेकर इंदौर विकास प्राधिकरण का घेराव किया। किसानों का आक्रोश आईडीए द्वारा अधिग्रहित जमीनों का उचित मुआवजा और विकसित जमीन देने के अपने वादे को पूरा नहीं करने पर फूटा। सैकड़ों की संख्या में रैली के रूप में आईडीए पहुंचे किसानों ने उनकी मांगों को जल्द पूरा नहीं करने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी देते हुए आईडीए पदाधिकारियों को ज्ञापन सौंपा।

युवा किसान सेना के सुनील चौधरी ने बताया कि आईडीए ने अपने प्रोजेक्ट के लिए अलग-अलग क्षेत्रों में किसानों की जमीनें अधिग्रहित की हैं। अधिग्रहण के समय आईडीए ने किसानों को जमीन के बदले जमीन या फिर उचित मुआवजा देने की बात कही थी। कई सालों बाद भी आईडीए अपने किसी भी वादे को पूरा करती नजर नहीं आ रही है। ना ही किसानों को उचित मुआवजा दिया जा रहा है और ना ही जमीन। जो जमीन दी भी गई है, वहां कोई विकास नहीं दिख रहा है। इन सभी समस्याओं को लेकर बड़ी संख्या में किसान जंजीरा वाला चौराहे से रैली के रूप में आईडीए दफ्तर पहुंचे और मामले में जल्द समाधान की मांग करते हुए ज्ञापन सौंपा है।

आईडीए ने कई प्रोजेक्ट के लिए किसानों से ली है जमीन :आईडीए के एमआर-10 में आईएसबीटी (इंटर स्टेट बस टर्मिनल), निरंजनपुर, राऊ सहित कई जगह पर प्रोजेक्ट चल रहे हैं। इसके लिए कई एकड़ जमीन किसानों से ली गई है। जमीन अधिग्रहण के समय जमीन मालिकों को विकसित प्लॉट देने के साथ ही उचित मुआवजे की बात कही गई थी। इनमें से ऐसे कई प्रोजेक्ट हैं जो सालों पुराने हैं। इसमें आईएसबीटी बनाने का प्रस्ताव ही करीब 7 साल पहले का है। इसके लिए करीब 22 किसानों की जमीन ली गई थी।

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0
© 2021 MP NEWS AND MEDIA NETWORK PRIVATE LIMITED